Google+ Followers

Friday, 8 July 2016

लेकिन कभी में खुद को भी तन्हा नहीं मिला। 💕 💞

उतना हसीन फिर कोई लम्हा नहीं मिला ।
तेरे बाद कोई भी तुझ सा नहीं मिला।।।
सोचा करूँ में एक दिन खुद से भी गुफ्तगू ।
लेकिन कभी में खुद को भी तन्हा नहीं मिला। 💕 💞

No comments: